Aarti Sangrah in Hindi

Aarti Sangrah is a collection of all major Aartis and Chalisas in Hindi.

Aartis:

विष्णु भगवान की आरती – ॐ जय जगदीश हरे
श्री गणेश की आरती : जय गणेश देवा
महालक्ष्मी माता की आरती- ॐ जय लक्ष्मी माता
शिव जी की आरती- ॐ जय शिव ओंकारा
श्री हनुमान की आरती : आरती कीजै हनुमान लला की
मां दुर्गा जी की आरती : जय अम्बे गौरी
श्री बृहस्पतिवार की आरती- ॐ जय बृहस्पति देवा
सूर्य देव की आरती : ॐ जय सूर्य भगवान
भगवान श्री कृष्ण जी की आरती : आरती कुंजबिहारी की
श्री राम जी की आरती : आरती कीजै श्री रघुवर जी की
सरस्वती माता की आरती : ॐ जय सरस्वती माता
श्री शनि देव की आरती : जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी
श्री साईं बाबा की आरती : ॐ जय साईं हरे
पार्वती माता की आरती : ॐ जय पार्वती माता
श्री गायत्री माता की आरती: जयति जय गायत्री माता
श्री सन्तोषी माता की आरती: जय सन्तोषी माता

Chalisas:

श्री हनुमान चालीसा
श्री दुर्गा चालीसा : नमो नमो दुर्गे सुख करनी
शिव चालीसा
श्री गणेश चालीसा
श्री शनि चालीसा
श्री कृष्ण चालीसा
श्री राम चालीसा
विष्णु सहस्त्रनाम स्तोत्र

If you like us to add your favorite aartis and chalisas to the Aarti Sangrah, whatsapp us on +91 95714 50711

shiv ji

शिव जी की आरती- ॐ जय शिव ओंकारा

(Shiv Ji Aarti in Hindi) यहां पढ़ें शिव जी की आरती By: डॉ पलाश ठाकुर (वैदिक ज्योतिषी, अंकशास्त्री, टैरो रीडर।) जय शिव ओंकारा ॐ जय शिव ओंकारा । ब्रह्मा विष्णु सदा शिव अर्द्धांगी धारा ॥ ॐ जय शिव ओंकारा॥  एकानन चतुरानन पंचानन राजे । हंसानन गरुड़ासन वृषवाहन साजे ॥ ॐ जय शिव ओंकारा ॥  दो …

शिव जी की आरती- ॐ जय शिव ओंकारा Read More »

महालक्ष्मी माता की आरती- ॐ जय लक्ष्मी माता

(Mahalakshmi Mata Aarti in Hindi) यहां पढ़ें महालक्ष्मी माता की आरती By: डॉ पलाश ठाकुर (वैदिक ज्योतिषी, अंकशास्त्री, टैरो रीडर।) ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता। तुमको निस दिन सेवत हर-विष्णु-धाता॥ ॐ जय लक्ष्मी माता उमा, रमा, ब्रह्माणी, तुम ही जग-माता। सूर्य-चन्द्रमा ध्यावत, नारद ऋषि गाता॥ ॐ जय लक्ष्मी माता तुम पाताल-निरंजनि, सुख-सम्पत्ति-दाता। …

महालक्ष्मी माता की आरती- ॐ जय लक्ष्मी माता Read More »

श्री गणेश की आरती : जय गणेश देवा

(Ganesh Ji Aarti in Hindi) यहां पढ़ें श्री गणेश की आरती By: डॉ पलाश ठाकुर (वैदिक ज्योतिषी, अंकशास्त्री, टैरो रीडर।) जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥ एक दंत दयावंत, चार भुजा धारी ।माथे सिंदूर सोहे, मूसे की सवारी ॥ जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा ।माता जाकी …

श्री गणेश की आरती : जय गणेश देवा Read More »

विष्णु भगवान की आरती – ॐ जय जगदीश हरे

(Vishnu Ji Aarti in Hindi) यहां पढ़ें श्री गणेश की आरती By: डॉ पलाश ठाकुर (वैदिक ज्योतिषी, अंकशास्त्री, टैरो रीडर।) ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी! जय जगदीश हरे। भक्तजनों के संकट क्षण में दूर करे॥  जो ध्यावै फल पावै, दुख बिनसे मन का। सुख-संपत्ति घर आवै, कष्ट मिटे तन का॥ ॐ जय जगदीश हरे॥  मात-पिता …

विष्णु भगवान की आरती – ॐ जय जगदीश हरे Read More »

WhatsApp Us!